INDIA-PAKISTAN RELATIONS: TIMELINE

indiapakistanhandshake

PM नरेंद्र मोदी और पाकिस्तानी PM नवाज शरीफ: 18 महीने, 4 मुलाकात

  • मई 2014 : पहली मुलाकात 26 मई को नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में नवाज शरीफ शामिल। PM मोदी ने PM शरीफ की मां के लिए तोहफे में शॉल दी।
  • जून: PM शरीफ ने PM मोदी की मां के लिए साड़ी भेजी।
  • जुलाई : एक ही महीने बाद पाकिस्तान ने बॉर्डर पर फायरिंग की। इसमें दो जवान शहीद हो गए थे।
  • अगस्त (फॉरेन सेक्रेटरी बातचीत रद्द) : पाक हाईकमिश्नर अब्दुल बासित की कश्मीरी अलगाववादियों से मुलाकात। इस्लामाबाद में होने वाली फॉरेन सेक्रेटरी की बातचीत रद्द।
  • सितंबर : नवाज शरीफ ने यूनाइटेड नेशंस के सेक्रेटरी जनरल बान की मून के साथ मुलाकात में कश्मीर का मुद्दा उठा दिया।
  • सितंबर : मोदी और शरीफ के बीच सितंबर 2014 में अमेरिका में आयोजित UNGA समिट के बाद बातचीत नहीं हुई।

  • अक्टूबर : एलओसी और बॉर्डर पर पाकिस्तान की ओर से जारी भारी फायरिंग, आम जनता को बनाया निशाना।
  • नवंबर : दूसरी मुलाकात PM मोदीनवाज नवंबर में सार्क समिट के दौरान मिले। लेकिन दोनों के बीच औपचारिक बातचीत नहीं हुई।
  • मार्च 2015 :  फॉरेन सेक्रेटरी एस जयशंकर ने पाकिस्तान के फॉरेन सेक्रेटरी एजाज अहमद चौधरी से मुलाकात की।
  • अप्रैल : पाकिस्तान में जेल से रिहा हुआ 26/11 हमले का मास्टरमाइंड जकिउर रहमान लखवी।
  • जून : PM मोदी बांग्लादेश दौरे पर कहा, पाकिस्तान ने आतंक फैलाकर भारत की ‘नाक में दम’ कर रखा है। पाकिस्तान ने इस बयान पर कड़ा एतराज जताया।
  • जून पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ का भड़काऊ बयान, कहाकश्मीर के लिए कोई भी कीमत चुकाने को तैयार।
  • जुलाई : परवेज मुशर्रफ ने कहा कि पाकिस्तान ने एटम बम क्या शबबारात के लिए बचाकर रखे हैं।
  • जुलाई : पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा कि जरूरत पड़ी तो पाकिस्तान एटम बम का इस्तेमाल करने से नहीं चूकेगा।
  • जुलाई : पाकिस्तान ने जम्मू से 20 किलोमीटर दूर अरनिया सेकटर में बीएसएफ की 6 पोस्ट पर फायरिंग की।
  • जुलाई : PM मोदीशरीफ की मुलाकात से पहले पाकिस्तान ने नॉर्थ कश्मीर के बारामूला सेक्टर में फायरिंग की। इसमें बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया।
  • 10 जुलाई : तीसरी मुलाकात  ऊफा (रूस) में PM मोदीशरीफ के बीच 8 महीने बाद मुलाकात हुई।  एनएसए और डीजीएमओ लेवल की बातचीत भी तय हुई।

Here is the full statement: They also agreed on the following steps to be taken by the two sides:

  • 1. A meeting in New Delhi between the two NSAs to discuss all issues connected to terrorism.
  • 2. Early meetings of DG BSF and DG Pakistan Rangers followed by that of DGMOs.
  • 3. Decision for release of fishermen in each other’s custody, along with their boats, within a period of 15 days.
  • 4. Mechanism for facilitating religious tourism.
  • 5. Both sides agreed to discuss ways and means to expedite the Mumbai case trial, including additional information like providing voice samples.

Prime Minister Nawaz Sharif reiterated his invitation to Prime Minister Modi to visit Pakistan for the SAARC Summit in 2016. Prime Minister Modi accepted the invitation.

  • 12 जुलाई : ऊफा समझौते से मुकरा पाकिस्तान। एनएसए सरताज अजीज ने कहा कश्मीर नहीं तो बातचीत नहीं।
  • अगस्त : एनएसए बातचीत से पहले पाक हाई कमिश्नर अब्दुल बासित ने कश्मीरी अलगाववादियों को न्योता भेजकर 23 अगस्त को दावत पर बुलाया।
  • 22 अगस्त (NSA बातचीत रद्द) : भारतपाकिस्तान के बीच रविवारसोमवार को होने वाली एनएसए लेवल की मीटिंग 4 दिन के सस्पेंस के बाद रद्द।
  • सितंबर : बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच दिल्ली में बातचीत।
  • सितम्बर : एलओसी (पुंछ के चक दा बाग) पर हुई भारत और पाक की ब्रिगेड कमांडर स्तर की फ्लैग मीटिंग।
  • 29 सितंबर : US में PM मोदीनवाज का आमनासामना, दूर से हुई दुआसलाम, हाथ हिलाकर एकदूसरे का अभिवादन किया।
  • 30 सितंबर : संयुक्त राष्ट्र की आम सभा में पाकिस्तान के PM नवाज शरीफ ने की भारत साथ अमन की पहल, लेकिन रखीं 4 शर्ते कश्मीर से सेना हटाई जाए।
  • 1 अक्टूबर: यूएन में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने PM नवाज को दिया था दोटूक जवाब, चार सूत्रों की जरूरत नहीं है। एक ही सूत्र काफी, आतंकवाद छोड़िए और बैठकर बात कीजिए।
  • अक्टूबर: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की स्पीच के बाद पाकिस्तान ने यूएन सेक्रेटरी जनरल बान कीमून को भारत के खिलाफ एक डोजियर सौंपे।
  • 23 अक्टूबर: पाकिस्तान को अमेरिका में फटकारभारत की शिकायत करने पर अमेरिका ने डांटा।
  • 25 अक्टूबर : पाकिस्तान में रह रही मूकबधिर भारतीय युवती गीता कराची से भारत लौटी, गीता गलती से सीमा पार करने के बाद करीब एक दशक से पाकिस्तान में रह रही है।

  • 27 नवंबर : दो महीने में पाक का यूटर्न: माल्टा में कॉमनवेल्थ देशों की समिट में PM नवाज शरीफ ने कहाहम बिना शर्त भारत से बात करने को तैयार।
  • 30 नवंबर : चौथी मुलाकात  पेरिस में PM मोदी से नवाज शरीफ की मुलाकात, एक सोफे पर बैठकर दोनों नेताओं के बीच थोड़ी देर बातचीत भी हुई।
  • 1- दोनों तरफ से सीजफायर का उल्लंघन पूरी तरह बंद हो। यूएन इस पर नजर रखे।
  • 2- कश्मीर से सेना हटाई जाए।
  • 3- दुनिया की सबसे ऊंची चोटी सियाचिन से सेना हटाई जाए।
  • 4- भारत और पाकिस्तान की तरफ से किसी भी तरह से सैन्य बलों का इस्तेमाल कतई न किया जाए।
  • 6 दिसंबर (NSA बातचीत) : दोनों देशों के एनएसए बैंकाक में मिले, NSA अजीत डोवाल और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नसीर जांजुआ के बीच सकारात्मक बात हुई है।
  • पीएम मोदी की लाहौर यात्रा : पांचवी मुलाकात पीएम नरेंद्र मोदी 25 दिसंबर को अफगानिस्तान से लौटते वक्त अचानक पाकिस्तान पहुंचे। लाहौर में 2 घंटे 40 मिनट रुके। पाक पीएम नवाज शरीफ उन्हें रिसीव कर जट्टी उमरा में अपने घर ले गए। मोदी करीब डेढ़ घंटे नवाज के घर पर रुके। वहां नवाज की नातिन मेहरुन्निसा की शादी की रस्में चल रही थीं। इसके बावजूद दोनों नेताओं ने भारत-पाक रिश्तों पर बात की। 12 साल बाद कोई भारतीय पीएम पाकिस्तान दौरे पर पहुंचे।
  • मोदी-शरीफ के बीच क्या हुए फैसले?1. पाकिस्तान के विदेश सचिव एजाज चौधरी के मुताबिक, ”दोनों मुल्कों में बातचीत आगे बढ़ाई जाएगी, ताकि रिश्ते नॉर्मल हो सकें।”
    2. ”पीपुल-टु-पीपुल कॉन्टैक्ट बढ़ाए जाएं, ताकि पॉजिटिव माहौल पैदा हो सके।”
    3. मोदी के दिल्ली लौटते ही शुक्रवार रात फॉरेन सेक्रेटरी लेवल की मीटिंग की तारीख भी तय हो गई। एजाज चौधरी और हमारे फॉरेन सेक्रेटरी एस जयशंकर 15 जनवरी को इस्लामाबाद में मिलेंगे।
  • 12 साल बाद भारत का कोई पीएम पाकिस्तान में
    पिछली बार अटल बिहारी वाजपेयी जनवरी 2004 में पाकिस्तान गए थे।
    वाजपेयी के बाद पीएम बने मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया।
    मोदी से पहले जवाहर लाल नेहरू (दो बार), राजीव गांधी (दो बार) और अटल बिहारी वाजपेयी (दो बार) पाकिस्तान जा चुके हैं।

इस दौरान आतंकी घटनाएं

  • 28 दिसंबर 2014: बेंगलोर के चर्च स्ट्रीट इलाके में बम धमाका हुआ है। इस ब्लास्ट में एक शख्स की मौत हो गई।
  • 27 जुलाई 2015: पाकिस्तान बॉर्डर से महज 15 किलोमीटर दूर पंजाब के गुरदासपुर में आतंकी हमला।

PM मनमोहन सिंह और पाकिस्तानी PM और President: 10 साल, 6 मुलाकातें 

  • फरवरी 2005कश्मीर और पीओके के बीच बस सेवा की शुरूआत।
  • 2006 जम्मूकश्मीर से सरकार ने 5,000 troops वापस बुलाए, लेकिन सियाचिन से दोनों देश पीछे नहीं हटे।

  • 9 फरवरी 2007 समझौता एक्सप्रेस में बम धमाका।

  • जुलाई 2008अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में भारतीय दूतावास पर आतंकी हमला. भारत ने इसके लिए पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई को ज़िम्मेदार ठहराया।

  • 29 सितम्बर 2008- पहली मुलाकात : UN में PM मनमोहन सिंह और पाकिस्तानी राष्ट्रपति ज़रदारी  की मुलाकात, द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाने के उपायों पर चर्चा की।

  • 26 नवंबर 2008- मुबंई में आतंकी हमला, 166 लोगों की मौत. भारत ने इसके लिए पाकिस्तान की धरती से सक्रिय आतंकी संगठनों को ज़िम्मेदार ठहराया।

  • फ़रवरी 2009पाकिस्तान ने मुंबई हमलों की जांच शुरू की और पहली बार इस बात को स्वीकार किया कि मुंबई पर हुए हमले की साज़िश पाकिस्तान में रची गई थी।

  • जून 2009 दूसरी मुलाकात :भारतीय PM मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी राष्ट्रपति ज़रदारी से रूस में हुए शंघाई कोऑपरेशन ऑरगनाइज़ेशन(एससीओ) की बैठक के दौरान मुलाक़ात की।

  • 16 जुलाई 2009 तीसरी मुलाकात :भारतीय PM मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी PM यूसुफ़ रज़ा गिलानी से मिस्र के शर्म अलशेख़ में गुट निरपेक्ष देशों की सम्मेलन के दौरान मुलाक़ात।

  • 28 अप्रैल 2010 चौथी मुलाकात : भारतीय PM मनमोहन सिंह की पाकिस्तान के PM यूसुफ़ रज़ा गिलानी से भूटान की राजधानी थिम्पू में हुए सार्क सम्मेलन के दौरान द्विपक्षीय बातचीत।

  • फ़रवरी 2011विदेश सचिव निरुपमा राव ने पाकिस्तान के विदेश सचिव सलमान बशीर से थिम्पू में मुलाक़ात की और दोनों देशों ने सभी आठ मुद्दों पर बातचीत शुरू करने का फ़ैसला किया।

  • अप्रैल 2011- दोनों देशों के वाणिज्य सचिवों के बीच इस्लामाबाद में बातचीत।

  • मई 2011- भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम ने इस्लामाबाद कौ दौरा किया और दिल्ली में दोनों देशो के रक्षा सचिवों के बीच सियाचिन मुद्दे पर चर्चा हुई।

  • 03 जुलाई 2011-भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव ने एक भारतीय टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि आतंकवाद के प्रति पाकिस्तान का रवैया बदला है।

  • 10 नवंबर 2011- दक्षेस में PM मनमोहनसिंह ने पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाने की दिशा में पेशकदमी के तहत प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलनी से मुलाकात की।

  • 23 जून 2011- भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव ने इस्लामाबाद को दौरा किया और अपने समकक्ष सलमान बशीर से मुलाक़ात की।

  • 27 जून 2011- पाकिस्तान के रक्षा मंत्री चौधरी अहमद मुख़्तार ने कहा कि भारत की सेना पिछले कुछ वर्षों में जितनी मज़बूत हुई है पाकिस्तानी सेना उनका मुक़ाबला नहीं कर सकती।

  • 26 जुलाई 2011-पाकिस्तानी विदेश सचिव सलमान बशीर की भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव से नई दिल्ली में मुलाक़ात।

  • 27 जुलाई 2011- पाकिस्तानी विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार की भारतीय विदेश मंत्री एस एम कृष्णा से नई दिल्ली में बातचीत।

  • 8 अप्रैल 2012पांचवी मुलाकात : दिल्ली में जरदारी और मनमोहन की बातचीत, जरदारी के भारत दौरे पर उनके सम्मान में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दोपहर के खाने का आयोजन किया था।

  • 15 अगस्त, 2013– PM मनमोहन सिंह का लाल किले से बड़ा बयान, आतंकवाद जारी रहा तो पाकिस्तान से रिश्ते नहीं सुधरेंगे।

  • 29 सितम्बर 2013- छठी मुलाकात : UN में PM मनमोहन सिंह और उनके पाकिस्तानी PM नवाज शरीफ ने मुलाकात की तथा द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाने के उपायों पर चर्चा की।

इस दौरान आतंकी घटनाएं

  • अगस्त 15, 2004: भारत के उत्तरपूर्वी राज्य असम में ब्लास्ट। 16 लोगों की मौत जिसमें ज्यादातर स्कूली बच्चे शामिल थे।

  • जुलाई 5, 2005: अयोध्या में बाबरी विध्वंस स्थल, राम जन्मभूमि पर आतंकी हमला।

  • अक्टूबर 29, 2005: दीवाली से दो दिन पहले दक्षिण दिल्ली के मशहूर बाजारों में जबरदस्त धमाका। 59 लोगों की मौत जबकि 200 घायल।

  • मार्च 7, 2006: तीर्थनगरी वाराणसी में हुए आतंकी हमले में 28 लोगों की जान गई। 101 लोग इस हमले में घायल हुए।

  • जुलाई 11, 2006: मुंबई की लाइफलाइन लोकल ट्रेनों में पूरी प्लानिंग के साथ 7 धमाके। इस हमले में 200 लोगों की मौत।

  • सितंबर 8, 2006: महाराष्ट्र के मालेगांव की एक मस्जिद के पास धमाके में 37 लोगों की मौत व 125 घायल। धमाकों के पीछे सिमी का हाथ।

  • मई 18, 2007: हैदराबाद की मक्का मस्जिद में शुक्रवार की नमाज के दौरान बम विस्फोट। 13 लोगों ने गंवाई जान। आतंकी हमले के बाद हुए दंगो में पुलिस की गोली से भी मारे गए 4 लोग।

  • मई 26, 2007: गुवाहाटी में हुए धमाके में 6 लोगों की मौत जबकि 30 लोग घायल।

  • जून 10, 2007: मणिपुर के बॉर्डर पर कई जगहों पर हुई फायरिंग से 11 लोगों की मौत।

  • अगस्त 25, 2007: हूजी के हमले में 42 लोगों की मौत व 50 घायल।

  • मई 13, 2008: पर्यटक स्थल जयपुर में 6 धमाके। 63 लोगों की मौत जबकि 150 लोग घायल।

  • जुलाई 25, 2008: बैंगलोर में एक साथ 7 धमाके। एक की मौत जबकि 150 से ज्यादा घायल।

  • जुलाई 26, 2008: अहमदाबाद में सीरियल ब्लास्ट। 45 लोगों की मौत जबकि 150 लोग गायल। इंडियन मुजाहिद्दीन ने ली हमले की जिम्मेदारी।

  • सितंबर 13, 2008: दिल्ली के मशहूर शॉपिंग स्थलों पर 5 बम धमाकों से 21 लोगों की मौत जबकि 100 लोग घायल। इंडियन मुजाहिद्दीन ने ली हमले की जिम्मेदारी।

  • सितंबर 27, 2008: दिल्ली के फूल बाजार में धमाके से एक की मौत।

  • अक्टूबर 30, 2008: असम में एक साथ 13 बम धमाके। 61 की मौत जबकि 300 घायल।

  • 26 नवंबर 2008: 10 आतंकियों ने पूरी मुंबई को हिलकर रख दिया। इन आतंकियों ने कई इलाकों में अंधाधुन फायरिंग की जिसमें 171 लोगों की मौत।

  • 13 फरवरी 2010: पुणे के जर्मन बेकरी में ब्लास्ट हुआ था, जिसमें 17 लोगों की मौत हुई थी और 60 लोग घायल हुए थे।

  • 13 जुलाई 2011: मुंबई के 3 इलाकों में सीरियल ब्लास्ट हुए जिसमें 26 लोगों की मौत हो गई और 130 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

  • 21 फरवरी 2013: हैदराबाद में सीरियल ब्लास्ट हुए जिसमें 16 लोगों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा लोग घायल हुए

PM अटल बिहारी वाजपेयी और पाकिस्तानी PM और President: 5 साल, 3 मुलाकात

  • 19 फरवरी 1999- पहली मुलाकात भारत के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की ऐतिहासिक लाहौर बस यात्रा और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से मुलाक़ात.

  • 1999 – कारगिल वॉर भारत और पाकिस्तान के बीच मई और जुलाई 1999 के बीच कश्मीर के करगिल में युद्ध हुआ।

  • जुलाई 2001-दूसरी मुलाकात पाकिस्तानी राष्ट्रपति जनरल परवेज़ मुशर्रफ़ की आगरा में PM अटल बिहारी वाजपेयी से बातचीत.लेकिन बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला.

  • अक्टूबर 1, 2001: श्रीनगर में जम्मूकश्मीर एसेंबली परिसर में आतंकी हमला। 35 लोगों की मौत। जैशमोहम्मद ने ली जिम्मेदारी।

  • दिसंबर 13, 2001: भारत की संसद पर आतंकी हमले में 12 लोगों की मौत जबकि 18 लोग घायल। पाकिस्तान के आतंकी संगठनों को इसके लिए जिम्मेदार बताया गया।

  • जनवरी 2004- तीसरी मुलाकात सार्क सम्मेलन के दौरान, पाकिस्तानी राष्ट्रपति मुशर्रफ़ की भारतीय प्रधानमंत्री वाजपेयी से इस्लामाबाद में मुलाक़ात.

  • फरवरी 2004- भारतपाकिस्तान के बीच समग्र वार्ता की शुरूआत.

इस दौरान आतंकी घटनाएं

  • अक्टूबर 1, 2001: श्रीनगर में जम्मूकश्मीर एसेंबली परिसर में आतंकी हमला। 35 लोगों की मौत। जैशमोहम्मद ने ली जिम्मेदारी।

  • दिसंबर 13, 2001: भारत की संसद पर आतंकी हमले में 12 लोगों की मौत जबकि 18 लोग घायल। पाकिस्तान के आतंकी संगठनों को इसके लिए जिम्मेदार बताया गया।

  • सितंबर 24, 2002: गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर हमला। 31 लोगों की मौत, 79 घायल।

  • मई 14, 2002: जम्मू के पास आर्मी कैंट पर आतंकी हमला। 30 लोगों की मौत।

  • मार्च 13, 2003: मुंबई की लोकल ट्रेन में बम ब्लास्ट से 11 लोगों की मौत।

  • अगस्त 25, 2003: मुंबई में दोहरे कार धमाके में 52 लोगों की मौत जबकि 150 लोग घायल।

 

जम्मूकश्मीरआतंकी हमले

  • 24 नवंबर 2015- कश्मीर के तंगधार में आर्मी कैंप पर हमलाजम्मूकश्मीर में बुधवार सुबह एक आर्मी कैंप पर 7-8 आतंकियों ने हमला कर दिया।
  • 23 नवंबरकुपवाड़ा में एनकाउंटर में एक आतंकी मार गिराया गया।
  • 23 नवंबरअनंतनाग जिले में आर्मी ने एनकाउंटर में तीन आतंकियों को मार गिराया।
  • 18 नवंबरकुपवाड़ा में एनकाउंटर के दौरान कर्नल संतोष महाडिक शहीद हो गए थे। यहां के जंगलों में पिछले कई दिनों से आतंकी छिपे हुए थे।
  • 20 नवंबरजम्मूकश्मीर के पंपोर इलाके में सीआरपीएफ कैंप को निशाना बनाकर आतंकी हमला किया गया।
  • 2 सितंबरबारामूला में एनकाउंटर के दौरान आर्मी का एक जवान शहीद हो गया था, लेकिन 3 सितंबर को आर्मी ने हंदवाड़ा में चार आतंकियों को मार गिराया।
  • अगस्त 5- जम्मूश्रीनगर हाईवे पर ऊधमपुर के पास बीएसएफ काफिले पर आत्घाती हमले की साजिश अबु कासिम ने रची थी। इस हमले में दो जवान शहीद और करीब 18 घायल हो गए थे।
  • 3 Jul 2015 – हथियारों से लैस 11 आतंकियों ने फेसबुक पर शेयर की तस्वीर।
  • 20 Mar 2015- जम्मू के कठुआ जिले के राजबाग थाने पर शुक्रवार सुबह आतंकियों ने हमला कर दिया। आतंकी सेना की वर्दी में आए थे।हमले में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है।
  • 27 Nov 2014- अरनियां में आतंकी हमला, यहां भी चारों आतंकियों ने सेना की वर्दी पहन रखी थी। मुठभेठ में सेना के तीन जवान शहीद हो गए।

सीमा पर घुसपैठ के मामले
सीमा पार से हो रही आतंकी घुसपैठ कुछ दिन पहले आर्मी इंटेलिजेंस को इनपुट मिला था कि कई आतंकी ग्रुप बॉर्डर से सटे पाकिस्तानी इलाकों में मौजूद हैं। करीब 15 दिन पहले एक आतंकी ग्रुप भारतीय सीमा में घुसा था, जिनके साथ हंदवाड़ा और कुपवाड़ा में आर्मी का एनकाउंटर हुआ। कुपवाड़ा के जंगल में छिपे आतंकियों की तलाशी के लिए आर्मी और पुलिस की एक टीम ज्वाइंट ऑपरेशन चला रही है।

  • 2013- 277 घुसपैठ के मामले, 67 आतंकी मारे गए

  • 2014- 220 बार घुसपैठ के मामले, 110 आतंकी मारे गए

  • 2015-अब तक घुसपैठ के 86 मामले सामने आए, 89 आतंकी मारे गए

मई 2014 में केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद से 300 से ज्यादा घुसपैठ के मामले समाने आए, जिसमें लश्करतैयबा, हिज्बुल मुजाहिदीन और अन्य संगठनों से जुड़े 165 आतंकवादियों को मार गिराया गया है।
जम्मूकश्मीर में राज्य में साढे 778 किलोमीटर नियंत्रण रेखा व जम्मू संभाग में 202 किलोमीटर के करीब अंतरराष्ट्रीय सीमा है, जिसमें से 192 किलोमीटर सीमा सुरक्षाबल व 10 किलोमीटर सेना के पास है।
– 350
किलोमीटर नियंत्रण रेखा पर fence लगे हैं, जो सर्दियों में damage हो जाते हैं।

2015 में बड़े आतंकी जो पकड़े या मारे गए

  • 5 अगस्त कसाब की तरह ज़िंदा पकड़ा गया पाक आतंकी नावेदउधमपुर में बीएसएफ की बस पर हमले के दौरान जिंदा पकड़े गए आतंकवादी ने अपना नाम नावेद बताया है। शुरुआती पूछताछ में उसने बताया है कि वह पाकिस्तान के फैसलाबाद में गुलाम मुस्तफाबाद का रहने वाला है। वह 12 दिन पहले पुंछ के रास्ते भारत में आया था। उसने अपनी उम्र 22 साल बताई है। उसका नाम उस्मान उर्फ कासिम उर्फ मोहम्मद नावेद है। बस पर हमला करने के बाद वह पास के ही गांव में छुप गया था। वह लगातार गांववालों से भागने का रास्ता पूछ रहा था। लेकिन गांववालों ने बहादुरी दिखाते हुए उसे दबोच लिया। इनमें से दो (विक्रमजीत और राकेश) ने उसे पकड़ने की कहानी बयां की। ये दोनों जीजासाले बताए जाते हैं।
  • 11 अगस्त लश्कर कमांडर सहित दो आतंकी ढेर, जवान घायलजम्मूकश्मीर के रत्नीपोरा (पुलवामा) में घेराबंदी तोड़कर भागा लश्करतैयबा का कमांडर गुलजार मौलवी अपने साथी शौकत अहमद लोन संग को सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में मारा गया।
  • अगस्त 27- जम्मूकश्मीर में जिंदा पकड़ा गया एक और पाकिस्तानी आतंकी, चार आतंकी ढेरबारामूला: पाकिस्तानी आतंकी नवेद के जिंदा पकड़े जाने के महीने भर के अंदर ही सुरक्षाबलों ने उत्तर कश्मीर के रफियाबाद इलाक़े में लंबी चली मुठभेड़ के बाद एक और पाकिस्तानी आतंकी जावेद को ज़िंदा पकड़ा है। पकड़े गए आतंकी की उम्र करीब 22 साल बताई जा रही है और सुरक्षा बलों की पूछताछ में उसने अपना नाम जावेद अहमद बताया है। इसके साथ ही उसने बताया कि उसे सज्जाद और अबु उबेदुल्लाह के कोड नाम से भी जाना जाता है। इस शख्स का ताल्लुक पाकिस्तान के मुजफ्फरगढ़ इलाके से बताया जा रहा है।
  • 12 सितंबरपुलवामा में मुठभेड़ के दौरान लश्कर का टॉप कमांडर ढेर जम्मूकश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्करतैयबा का टॉप कमांडर मारा गया. आतंकी के सिर पर 10 लाख रुपये का इनाम था. उसे मार गिराया जाना सुरक्षाबलों की बड़ी कामयाबी है. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, मृत आतंकी इरशाद गनी श्रीनगर से दक्षिण में करीब 40 किलोमीटर दूर स्थित पुलवामा के काकापोरा इलाके का रहने वाला था. वह जून 2013 में हैदरपोरा में 8 सैन्यकर्मियों की हत्या के अलावा सेना और पुलिस पर कई दूसरे हमलों के सिलसिले में वांटेड था.
  • 4 अक्टूबरपुलवामा में एनकाउंटर में जैशमोहम्मद के 2 आतंकी ढेर जम्मूकश्मीर के त्राल एरिया में सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में 2 आतंकियों को मार गिराया है। पुलवामा के त्राल इलाके में रविवार दोपहर को राष्ट्रीय राइफल्स को एक स्पेशल ऑपरेशन के दौरान गंची हरि एरिया में दो आतंकियों के छुपे होने की जानकार मिली थी। इसके बाद राष्ट्रीय राइफल और स्पेशन ऑपरेशन ग्रुप ने इलाके को घेर लिया। इसके बाद आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसके बाद सुरक्षाबलों की कार्रवाई में दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया। मारे गए दोनों आतंकी जैशमोहम्मद के हैं।
  • 16 अक्टूबरपुलवामा में बुर्का पहनकर आया आतंकी अरेस्टजम्मूकश्मीर के पुलवामा में शुक्रवार को पुलिस पर फायरिंग कर भाग रहे आतंकी को गिरफ्तार कर लिया गया। आतंकी बुर्का पहने हुए था। फायरिंग में दो लोग घायल हुए हैं। उधर, श्रीनगर में जुमे की नमाज के बाद जामिया मस्जिद के बाहर पाकिस्तान के झंडे लहराए गए।
  • 29 अक्टूबरऊधमपुर हमले का मास्टर माइंट अबु कासिम ढेर ऊधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर आत्मघाती हमले का मास्टर माइंड लश्कर का डिवीजनल कमांडर अबु कासिम 29 अक्टूबर को सुरक्षाबलों के साथ हुई भीषण मुठभेड़ में मारा गया। पाकिस्तान के बहावलपुर का रहने वाला अब्दुल रहमान उर्फ अबु कासिम दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में उसी इलाके में ढेर हुआ, जहां से उसने पांच अगस्त को नावेद सहित अन्य आतंकियों को ऊधमपुर हमले के लिए रवाना किया था। अबु कासिम कश्मीर में दर्जनों आतंकी वारदात में शामिल रह चुका है। उसपर बीस लाख रुपये का इनाम था। दस लाख एनआइए और दस लाख राज्य पुलिस ने घोषित कर रखा था।
  • 15 नवंबरराष्ट्रीय राइफल ने ज़िंदा पकड़ा खूखार आतंकी इम्तियाज अहमद डार उर्फ हाफिज राष्ट्रीय राइफल और पुलिस की संयुक्त कार्यवाही में हिज्बुल मुजाहिदीन का एक खूखार आतंकी इम्तियाज अहमद डार उर्फ हाफिज को गिरफ्तार कर लिया है. दो नागरिको की हत्या और शोपियां जिले की अदालत पर हमले समेत पुलवामा जिले में अवन्तीपोरा और कोवनी की घटना में भी कथित रूप से शामिल था. बताया जाता है की आतंकी पिछले साल ही हिज्बुल में शामिल हुआ था और सारी घटनाओ को अंजाम दिया था, खबर मिलने पर हाफिज को शनिवार रात अनंतनाग जिले से गिरफ्तार कर लिया गया है.

पाकिस्तान ने कितनी बार सीजफायर तोड़ा?

  • रूस के उफा में 10 जुलाई को मोदीनवाज के बीच मुलाकात के बाद पाकिस्तान ने 95 बार सीजफायर तोड़ा है।

  • अगस्त में पाकिस्तान ने 55 बार सीजफायर तोड़ा।

  • इस साल पाकिस्तान ने अब तक 250 बार सीजफायर तोड़ा है।

साल पाक ने बॉर्डर और एलओसी पर कितनी बार तोड़ा सीजफायर कितने जवान (Army, Para Military & Police) शहीद हुए कितने आम लोगों की जान गई
2015 में अब तक 250 से ज्यादा बार 22 5
2014 583 बार (एलओसी-153 और आईबी-430) 26 16

Source: http://www.satp.org/satporgtp/countries/india/states/jandk/data_sheets/index.html

Advertisements

About drsandeepkohli

तमाम लोगों को अपनी-अपनी मंजीलें मिली.. कमबख्त दिल हमारा ही हैं जो अब भी सफ़र में हैं… पत्रकार बनने की कोशिश, कभी लगा सफ़ल हुआ तो कभी लगा …..??? 13 साल हो गए पत्रकार बनने की कोशिश करते। देश के सर्वोतम संस्थान (आईआईएमसी) से 2003 में पत्रकारिता की। इस क्षेत्र में कूदने से पहले शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ा था, अंतरराष्ट्रीय राजनीति में रिसर्च कर रहा था। साथ ही भारतीय सिविल सेवा परिक्षा की तैयारी में रात-दिन जुटा रहता था। लगा एक दिन सफ़ल हो जाऊंगा। तभी भारतीय जनसंचार संस्थान की प्रारंभिक परिक्षा में उर्तीण हो गया। बस यहीं से सब कुछ बदल गया। दिल्ली में रहता हूं। यहीं पला बड़ा, यहीं घर बसा। और यहां के बड़े मीडिया संस्थान में पत्रकारिता जैसा कुछ करने की कोशिश कर रहा हूं। इतने सालों से इस क्षेत्र में टिके रहने का एक बड़ा और अहम कारण है कि पहले ही साल मुझे मेरे वरिष्ठों ने समझा दिया गया था कि हलवाई बनो। जैसा मालिक कहे वैसा पकवान बनाओ। सो वैसा ही बना रहा हूं, कभी मीठा तो कभी खट्टा तो कभी नमकीन, इसमें कभी-कभी कड़वापन भी आ जाता है। सफ़र ज्यादा लम्बा नहीं, इन ग्यारह सालों के दरम्यां कई न्यूज़ चैनलों (इंडिया टीवी, एनडीटीवी, आजतक, इंडिया न्यूज़, न्यूज़ एक्सप्रेस, न्यूज़24) से गुजरना हुआ। सभी को गहराई से देखने और परखने का मौका मिला। कई अनुभव अच्छे रहे तो कई कड़वे। पत्रकारों को ‘क़लम का सिपाही’ कहा जाता है, क़लम का पत्रकार तो नहीं बन पाया, हां ‘कीबोर्ड का पत्रकार’ जरूर बन गया। अब इस कंप्यूटर युग में कीबोर्ड का पत्रकार कहलाने से गुरेज़ नही। ख़बरों की लत ऐसी कि छोड़ना मुश्किल। अब मुश्किल भी क्यों न हो? सारा दिन तो ख़बरों में ही निकलता है। इसके अलावा अगर कुछ पसंद है तो अच्छे दोस्त बनना उनके साथ खाना, पीना, और मुंह की खुजली दूर करना (बुद्धिजीवियों की भाषा में विचार-विमर्श)। पर समस्या यह है कि हिन्दुस्तान में मुंह की खुजली दूर करने वाले (ज्यादा खुजली हो जाती है तो लिखना शुरू कर देते हैं… साथ-साथ उंगली भी करते हैं) तो प्रचुर मात्रा में मिल जाएंगे लेकिन दोस्त बहुत मुश्किल से मिलते हैं। ब्लॉगिंग का शौक कोई नया नहीं है बीच-बीच में भूत चढ़ जाता है। वैसे भी ब्लॉगिंग कम और दोस्तों को रिसर्च उपलब्ध कराने में मजा आता है। रिसर्च अलग-अलग अखबारों, विभिन्न वेवसाइटों और ब्लॉग से लिया होता है। किसी भी मित्र को जरूरत हो किसी तरह की रिसर्च की… तो जरूर संपर्क कर सकते हैं।
This entry was posted in News, Personality, Uncategorized, Yatra and tagged , , , , , . Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s